Headlines News :
Home » » असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-3

असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-3

Written By Vaneet Nagpal on Monday, 21 January 2013   2 comments

असली "लाल किताब के फरमान 1952" हिंदी में : प्रथम-पेज़-3

9. इसमें शक नहीं कि लड़कपन की तबियत वाले निंदक (बदखोई करने वाला) और कुएं के मेंढक (अपने दायरे में महदूद) जैसे दिमागी मालिक और मखौल उड़ाने वाले भोले बादशाह (बेवकूफ) से फराहत आ ही जाया करती है मगर दुनियावी राशियों को क्षमतानुसार (हस्बे हैसियत) इस इल्म के फायदा पहुँचाना इन्सानी शराफत होगी | क्योंकि

कर भला होगा भला
आखिर भले का भला
नए और पुराने मज़मून का फर्क
यह किताब

जन्म वक्त्त दिन माह उम्र साल सब कुछ,
हस्म नाम को भी मिटा देती है ||
फक्त्त रेखा फोटो मकानों से कुंडली,
जन्म भय चन्द्र बना देती है ||
लिखित जब विधाता किसी की हो शक्की,
उपाय मामूली बता देती है ||
ग्रह फल व राशि के टुकड़े दो करता,
या रेखा में मेख लगा देती है ||

1. इस विद्या की नीवं सामुद्रिक विद्या पर है जिससे मौजूदा ज्योतिष के मुताबिक बनी कुंडली के लग्न की दुरुस्ती करने में मदद मिलती है | जब प्राचीन विचारों पर शनिच्चर की अढाई साला मंदी चाल के तीन बड़े चक्रों (2 ½, 5, 7 ½ साल) की साढ़सती की फ़िक्र माननी पड़े, तो इस लाल किताबी मज़मून की बुनियाद पर शनिच्चर की मंदी घटनाएं मसलन साँप डसने की घटनाएं (वारदातें), मकान गिर जाने या बिक जाने, आँख की नज़र (बिनाई)

Share this post :

+ comments + 2 comments

Wednesday, February 08, 2017 6:11:00 pm

Finding the time and actual effort to create a superb article like this is great thing. I’ll learn many new stuff right here! Good luck for the next post buddy..
Jobs in Noida
Jobs in Pune

Wednesday, July 19, 2017 11:01:00 am

Interesting blog which attracted me more.I hope you will post more update like this.
Digital marketing company in Chennai

Post a Comment

 
Support : Tips Hindi Mein | Vaneet Nagpal
Copyright © 2011. Hindi Tips - All Rights Reserved
Template Created by Vaneet Nagpal Published by Tips Hindi Mein
Proudly powered by Blogger